Daily Calendar

बुधवार, 15 दिसंबर 2010

वैष्णवी कारपोरेट कम्युनिकेशन की मालकिन नीरा राड़िया के घर सीबीआई की छापेमारी




आज 2जी स्पेक्ट्रम घोटाला मामले में सीबीआई ने दुसरी बार आज आरोपियों के घरों और दफ्तरों पर छापेमारी शुरू कर दी है। फोन टेपिंग मामले से कई बड़े पत्रकारों, उधोगपतियों,नेताओं और इस मामले में शामिल अन्य लोगों का पर्दाफाश एक पत्रिका द्वारा जैसे हीं हुआ, केन्द्र सरकार सकते में आ गयी। गौरतलब है कि मामले की जॉच जब सीवीआई ने शुरू की तो सबसे पहले ए राजा और उनके चार सहयोगियों के घर पर पिछले कुछ दिन पहले छापेमारी की गई।आज सुबह सात बजे से सीबीआई ए राजा के अन्य सहयोगियों के घर पर और दफ्तरों के साथ उनके अन्य ठिकानों पर भी छापेमारी कर रही है।

जैसा कि पहले से हीं पता है कि 2जी स्पेक्ट्रम मामले में एक पत्रिका के द्वारा फोन टेपिंग के प्रकाशन के जरिये इस मामले की पूरी तस्वीर से जनता और सरकार को अवगत कराया था। फोन टेपिंग मामले में हुए खुलासे से यह पता चल पाया कि ए राजा को टेलिकॉम मंत्री बनाने के लिए कई बड़ी हस्तियों जिसमें कई पत्रकार, उधोगपति, नेता, नौकरशाह और कई अन्य लोगों ने लॉबिंग की थी।

इस मामले में की गई लॉबिंग में जिसने ए राजा को टेलिकॉम मंत्री बनाने के लिए इन हस्तियों को एक जगह इकट्ठा कराया वो थीं वैष्णवी कारपोरेट कम्युनिकेशन की मालकिन नीरा राड़िया।

नीरा राडिया वैष्णवी कारपोरेट कम्युनिकेशन की मालकिन हैं, तीन सौ पेशेवर लोगों की कमान संभालती हैं। नीरा राडिया की कंपनी मुकेश अंबानी की कंपनी और टाटा जैसे कई कंपनियों के लिए जनसंपर्क का कार्य करती है। नीरा राडिया की कंपनी विज्ञापन, जनसम्पर्क, कारोबार चलाने में सहयोग,कंपनी के कार्य की रुपरेखा के लिए राय देना और बिचौलिये का भी काम करती है।

नीरा राडिया एक कारपोरेट लॉबिस्ट हैं। जिसका आँफिस दिल्ली,चेन्नई के अलावा भारत के उन्नतीस शहरों में है। नीरा राडिया का घर दिल्ली के छत्तरपुर इलाके में है।

2जी स्पेक्ट्रम मामले में सीबीआई सुबह सात बजे से नीरा राडिया के छत्तरपुर स्थित उनके घर के साथ हीं दिल्ली एवं चेन्नई के आँफिस पर भी छापेमारी कर रही है। इसके साथ सीबीआई सुबह सात बजे से हीं कुल चौंतीस जगहों पर छापेमारी कर रही है। जिनमें ट्राई के पूर्व सचिव प्रदीप बैजल,तमिल पत्रिका नक्कीरन के संपादक के साथ, करुणानिधी की पुत्री कन्निमौझी जो एक एनजीओ चलाती हैं के साथ-साथ ए राजा के कई रिश्तेदारों के घर और दफ्तर शामिल है। ए राजा की बहन के घर त्रिची में भी छापेमारी जारी है।

छापेमारी में सीबीआई को नीरा राडिया का निजी कम्प्युटर और कुछ अहम दस्तावेजों की बरामदगी हुई है।तमिलनाड़ु में सत्ताईस और दिल्ली में सात जगहों पर सीबीआई छापेमारी कर रही है।

करुणानिधी की पुत्री कन्निमौझी इस छापे को गलत बताती हैं। कन्निमौझी तमिलमैयम नाम की एनजीओ चलाती है।जिसके एनजीओ तक हवाला के जरिये विदेशों में भेजा गया घोटाले का पैसा वापिस लाया गया,जिस कारण कन्निमौझी के एनजीओ पर भी छापा पडा है। ए राजा के घर से बरामद दस्तावेजों में से जिन लोगों के नाम मिले थे सीबीआई के छापेमारी में उनके ठिकाने भी शामिल है। सीबीआई नीरा राडिया और प्रदीप बैजल से पुछताछ कर रही है।

गौरतलब है की नीरा राडिया सहित सभी लोगों पर लॉबिंग का आरोप है। फोन टेपिंग मामले में उधोगपति टाटा ने मीडिया के द्वारा इसके सार्वजनिक किये जाने पर रोक की माँग सुप्रिम कोर्ट से की थी।जिस पर अभी तक कोर्ट ने अपना फैसला सुरक्षित रखा है।

लेकिन टाटा की इस माँग पर इंडियन कार्पोरेट विक पर बोलते हुए प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा था कि फोन टेपिंग गलत नहीं है, लेकिन इसका इस्तेमाल गलत तरिके से न हो, इसका इस्तेमाल राष्ट्रहित में होना चाहिए।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें