Daily Calendar

गुरुवार, 30 दिसंबर 2010

चार सौ करोड़ का चूना


एक सनसनीखेज खुलासे ने लोगों को तब हैरत में ड़ाल दिया जब उन्हें पता चला कि गुड़गांवा के सिटी बैंक के एक शाखा के रिलेशनशिप मैनेजर ने ग्राहकों को चार सौ करोड़ रुपये का चूना लगा दिया है। शिवराज नाम का यह शख्स गुड़गांवा में सिटी बैंक की शाखा पर रिलेशनशिप मैनेजर के पद पर कार्यरत है। जहॉ पिछले एक साल से यह व्यक्ति ग्राहकों को ज्यादा ब्याज का लालच देकर अपने और अपने परिवार के लोगों के खाते में रुपये जमा कराता आ रहा था। ग्राहकों को जब शक हुआ तो इन्होंने इसकी शिकायत सिटी बैंक के अधिकारियों से की फिर जब बैंक के अधिकारियों ने इसकी छानबीन शुरू की तो उन्होने पाया कि शिवराज ने ग्राहकों को चार सौ करोड़ रुपये की चपत लगा दी है।इसके बाद सिटी बैंक के अधिकारियों ने इस पूरी घटनाक्रम से गुडगांवा पुलिस को अगाह कराया। पुलिस ने घटना की छानबीन शुरू की तो शिवराज का पता नहीं चल पाया न हीं पुलिस को घटना में लिप्त शिवराज की पत्नी और सास-ससुर का हीं पता चल पाया है।इसके बाद पुलिस ने सभी के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी कर दिया है।पुलिस को शक है कि आरोपी और उनके संबंधी देश छोड़कर भाग सकते हैं। इसलिए एफआईआर दर्ज करने के बाद हीं गुडगांवा पुलिस ने गृहमंत्रालय और नागरिक उड्डयन को इसकी सूचना दे दी। गुडगांवा पुलिस ने देशभर के एयरपोर्ट पर आरोपी और उसके परिवार के अन्य सदस्यों की फोटो भेज दी है।

शिवराज के सिटी बैंक के चौदह खाते को बैंक ने सील कर दिया है, ये खाते ज्वाइंट रूप से शिवराज उनकी पत्नी और सास-ससुर के नाम से थी। जिससे बैंक ने करीब चार करोड़

रुपये जब्त कर लिये हैं। निवेश के नाम पर करोड़ों की धोखाधडी करने वाले शिवराज के ससुर सेना के रिटायर्ड ऑफिसर है।शिवराज ग्राहकों को निवेश के लिए प्रेरित करने और उनका विश्वास जीतने के लिए सेबी के फर्जी लेटर हेड का सहारा लेता था। इस तरह वह सिटी बैंक के नाम पर जमा की जाने वाली राशि को अपने और अपने परिवार के अन्य रिश्तेदारों के ज्वाइंट खातों में जमा कराता था। ऐसा करके उसने बैंक और ग्राहकों को चार सौ करोड़ का चूना लगा दिया है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें